मुझे तुमसे प्यार है मामा

हैलो दोस्तो मेरा नाम सोनम है । मै एक टीनेजर लडकी हु। मेरी ऐज 18 साल है। मेरा फिगर 32-30-34 है। मै कलास 12th की छात्रा हु। मै अपने ममी पापा के साथ रहती हु। मेरा फीगर तो कमाल का है कयोंकी मै एकसर साइज पे बहोत धयान देती हु। पर रंग सावला है मेरा ।

इसलिए मेरा कोई बायफ्रेड नही है। मेरा एक भाई भी है जो मुझे हमेशा मेरे रंग और सिंगल होने के लिए मुझे चीढाता था। मुझे उस पर बहोत गुस्सा आता था । ममी पापा भी उसकी साइड लेते थे कयोकीं वह इक लौता बेटा जो था। मेरे एक मामा भी है । उनका नाम राहुल है। मेरे मामा की ऐज 23 है । वो जौब करते है एक पराइवेट कमपनी मे। मुझे मामा पे क्रस था कयोकी वह मुझे हमेसा सपोट करते थे ।

मामा जी जब भी घर पर आते तो मैं उनकी तरफ आकर्षित हो जाती उनके पैसों से उनके हैंडसम लुक से और उनकी बातों से। मामा जी ने मुझसे वादा किया था कि आगर मुझे कोई अछा लडका नही मीलता है तो वह मुझसे शादी कर लेंगे और मुझे अपने साथ गढ़वा ( झारखंड ) ले जाएंगे।

मैं तो यह सुनकर पागल पागल ही हो गई।‌ मैं उनकी तरफ आकर्षित होने लगी। मुझे उनसे प्यार हो गया था। वह दिखने में बहुत ही हैंडसम थे उनकी बॉडी भी बहुत ही अच्छी थी। और जब मुझे यह पता लगा कि वह बहुत ही अमीर आदमी हैं और महीने का 50 हजार रुपया कमाते हैं तो मैं तो उनकी दीवानी ही हो गई।

फिर क्या मैंने मामा जी के ऊपर डोरे डालना चालू कर दिया और उनके साथ में चिपकना चालू कर दिया। मैं उनका बहुत ज्यादा ख्याल रखती थी और हमेशा उनके साथ ही रहती थी ताकि उनको मेरी तरफ आकर्षित कर सकू।

जब मामाजी अपना काम कर रहे होते । तो मैं पीछे से उनके गले लग जाती थी यह पूछने के बहाने की मामा जी क्या कर रहे हो?!! मेरे बड़े बड़े जवान बूब्स उनकी पीठ से लड़ते तो मामा जी का लंड खड़ा हो जाता था। और मैं बातों ही बातों में मामा जी की गाल पर भी हाथ मारती थी और मैं अपने नरम हाथों से उनके कंधे भी दबा ती थी। जिससे मामाजी गर्म हो जाते थे।

मामा जी ने मुझसे एक दिन कहा – तुम ऐसे मेरे साथ चिपका मत करो ऐसे मेरे आगे पीछे मत भागा करो।

मैंने कहा – क्यों मामा जी क्या हो गया ?

उन्होंने कहा – तुम जैसी हरकतें कर रही हो उससे मुझे कुछ – कुछ होता है।

मैंने कहा – मैं सब समझ गई हूं। आपको क्या होता है। और मैं भी महसूस करती हूं। मैं आपसे प्यार करती हूं।

मामा जी हैरान होकर कहा – यह गलत है। मैं तुम्हारा मामा हूं।

मैंने कहा – हां तो क्या हुआ आप तो मेरी मम्मी के भाइ हो तो क्या हम दोनों एक साथ नही रह सकते हैं ? मुझे आप बहुत अच्छे लगते हो क्या मैं आपको पसंद नहीं हूं मामा जी

वह बोले – नहीं ऐसी बात नहीं है!!!

तो मैंने उनका नाम लेकर बहुत ही सेक्सी अंदाज में कहा – तो क्या बात है राहुल!!!

और मैं धीरे-धीरे उनके पास जाने लगी और मैं उनके सर के पास चली गई मेरे बुबस उनके सीने से लड़ रहे थे और मेरे और उनके होठों के बीच में बस 2 इंच का ही फासला था।
मामा गर्म सांसे छोड़ने लगे और मैं उनकी सांस अपने होठों पर और चेहरे पर महसूस कर पा रही थी।

फिर मैंने मामा जी की पेंट में अपना हाथ डाल दिया

मामा – मत करो ये गलत है 🥴

लेकिन मैं नहीं रुक रही थी और मामा जी की मुठ मारने लगी और मामा जी बहुत ही ज्यादा कामुक होगए तो उन्होंने मुझे अपनी गोदी में उठा लिया और पागलों की तरह चूमने लगे।

मामा – तुम एक बहुत ही शरारती लड़की हो जिसने मेरा दिल जीत लिया है।

यह सुनते ही मैं बहुत ज्यादा खुश हो गयी और मैं मामा के होठों को चूमने लगी मैं उनकी जुबान को चूसने लगी और उनके पूरे चेहरे को इधर-उधर चूमने लगी…

उन्हें चूमते चूमते मैंने कहा – तुम मुझसे शादी कर लो राहुल मैं अपना शरीर और आत्मा तुम्हे सौप चुकी हूं। मुझसे शादी कर लो और अपनी पत्नी बना लो। 👰

मामा – हां मैं तुमसे ही शादी करूंगा पहले चोद तो लुं। 😍

यह बात सुनकर मैं बहुत ज्यादा खुश हो गई और मामा को और भी ज्यादा जोर से चूमने लग गई, मामा मेरे जांग पर हाथ मार रहे थे और अपने लंड को मेरी गांड के बीच में रख कर मसल रहे थे।

मै – आ…. राहुल आ…. नहीं आ….. राहुल आह…. नहीं अम्म….

मामा ने अपने लंड को मेरी जवान चूत में घुसा दिया और मेरी चूत की चुदाई करने लगे। 🥰

मै – आह… अहह…. अहह…. अम्म….. आ….. आ….. आ…. आराम से…..

मामा – तुम्हारी चूत बहुत कसी हुई है।

मै – हां क्योंकि ये मेरा पहली बार है। और मैं इसे अपने पहले प्यार को दे रही हुं।

मामा – मैं कितना नसीब वाला हूं जो मुझे तुम्हारे जैसी बीवी मिलेगी।

और मामा मुझे गोदी में रखकर चोदने लगे। मैं आज हवा में लटकी हुई थी और मेरी चूत की चुदाई भी जोर शोर से हो रही थी। वे मुझे घचाघच चोद रहे थे।

मामा – आ… आ…

मै – ओह्ह…. आ… ओह्ह…. अम्म…. आ…. आ… आ…

वह मेरा गांड दबा – दबा कर चोद रहे थे फिर उन्होंने मुझे बिस्तर के ऊपर लेटा दिया और मेरी चुदाई करने लगे वह मेरे बुबस को भी दबा रहे थे। और उन्हें पी रहे थे। वह मुझे चुम भी रहे थे वह मुझे चोद भी रहे थे वह मुझे काट भी रहे थे हम दोनों काम वासना की आग में जल रहे थे।

फिर उनका जैसे ही निकलने वाला था उन्होंने कहा – आ… मेरा निकलने वाला आ….

मेने कहा – मेरे अंदर अपना प्यार निकाल दो जानू… 😘

और मामा ने मेरे अंदर अपना सारा माल झाड़ दिया। उन्होंने मेरी चूत की जड़ तक अपने बीच को फैला दिया। हम बहुत ही ज्यादा थक गए और एक दूसरे को प्यार भरी नजरों से देख रहे थे और मैं मामा के होठों पर चुम्मा दे रही थी।‌ मैं मामा का लंबा लंड अपनी छोटी सी चूत में लिए लेटी रही। और उनसे बाते करने लगी। मुझे मामा से एक 1 लाख वाला एप्पल आईफोन चाहिए था। मैं मामा को रिझा रही थी एप्पल आईफोन के लिए ।

मुझे दोस्तों के साथ में पार्टी करना। देर रात तक मौज मस्ती करना बहुत ही पसंद है लेकिन मेरे हर दोस्त के पास एप्पल आईफोन था मेरे पास नहीं था। तो मैंने मामा से कहा और जिद पकड़ ली कि मुझे एप्पल आईफोन चाहिए 1 लाख वाला। पहले तो मामा ने मना कर दिया और कहा – तुम इतना महंगा फोन संभाल नहीं पाओगी!!

लेकिन मुझे पता था मुझे अपने मामा को कैसे मनाना है। क्योंकि उनको कहीं ना कहीं मेरे ऊपर वासना वाली प्यार थी। जैसा की आप लोगों को पता है मामा – भांजी का रिश्ता बहुत ही अनोखा होता है और बहुत गहरा भी होता है। लेकिन कई बार यह परिवार में चुदाई का रिश्ता भी बन जाता है और दोनों को एक दूसरे के ऊपर वासना इच्छाएं आ जाती हैं।

मुझे पता था वह मुझे प्यार बहुत ज्यादा करते हैं लेकिन वह मुझे अश्लील नजरों से भी देखते हैं।

तो मैंने इसी बात का फायदा उठाया और 1 दिन मामा जब अखबार पढ़ रहे थे मैं उनके पास जाकर चिपक कर बैठ गई।

मैंने कहा – मैंने कहा था आपको एप्पल आईफोन दिलाने के लिए..

मामा बोले – मैं आपको मना कर चुका हूं ना आप वह नहीं संभाल पाओगे!!!!

मैंने उनकी आंखों में देख कर कहा – क्या मैं इतनी बड़ी नहीं हुई हु!!! कि मैं एक आईफोन ना संभाल पाऊं?!! आपको अपनी भांजी पर इतना भी भरोसा नहीं है!!

और मैं उनके करीब धीरे धीरे जाने लगी और हम दोनों के चेहरे के बीच में बस 6-7 इंच का ही फासला बचा था।

मामा की आंखें बड़ी हो गई और वह मेरी आंखों में देखने लगे उनकी सांसे गर्म होने लग गई और वह कहने लगे – ऐसी बात नहीं है। मैं तुम पर बहुत यकीन करता हूं। और तुमसे बहुत प्यार भी करता हूं।

मैंने कहा – फिर दिक्कत क्या है अपनी परी को आईफोन दिला दीजिए और आप जो बोलोगे वह मैं करूंगी

मामा ने कहा – जो बोलूंगा वह करोगी और मम्मी को भी नहीं बताऊंगी…

मैंने कहा – हां !!!!

और मामा इससे पहले कुछ भी बोलते मैं उनकी जांघों के ऊपर अपना हाथ फेरने लगी क्योंकि मुझे अपने मामा के बारे में पता है मामा को धीरे-धीरे कामवासना की इच्छा होने लगी।

मामा – सोनम…

मैंने पूछा – मजा आ रहा है ना….. आपको अपनी प्यारी भांजी के हाथों का आनंद मिल रहा है ना?

और मैंने मामा की पैंट उतार दी । पैंट उतारते ही मामा का 8 इंच का लोड़ा बिल्कुल खड़ा था। इतना लंबा लंड मैंने कभी भी नहीं देखा था ।

फिर मैं धीरे-धीरे मामा के लंड की मुठ मारने लगी और उनको और भी ज्यादा गर्म करने लगी।

मैंने कहा – अपनी परी के नरम – नरम हाथ आपको कैसे लग रहे हैं!

मामा – आ….. आ…. बहुत अच्छे लग रहे हैं । बहुत मजा आ रहा है.

फिर मैंने कहा – क्या आप चाहते हो इसे मैं अपने मुंह में लूं और आपको ओरल सेक्स का मजा दु।

मामा ने कहा – हां मुझे ब्लोजॉब करवाना है। अपनी प्यारी भांजी से ‌। मुझे चूसो…

लेकिन मैंने उसी टाइम सब कुछ बंद कर दिया।

मामा बोले – क्या हुआ सोनम, दिक्कत क्या हुई?!!

मैंने कहा – मैं यह तभी आगे करूंगी जब आप मुझे अभी के अभी एप्पल आईफोन आर्डर करके दोगे.

मामा ने कहा – तुम बहुत ही शरारती लड़की हो । तुम्हें पता है अपने मामा की कमजोरियां…

और मामा ने उसी टाइम पेमेंट करके ऑनलाइन एप्पल आईफोन ₹1 लाख वाला ऑर्डर कर दिया।

मैं खुशी के मारे झूम उठी!!! और मैं मामा के गले लग गई और उनके होठों पर किस करने लगी। मैं उनके दोनों होंठों को चूस रही थी और उनकी जबान को भी चाट रही थी बदले में वो भी मुझे खूब प्यार से चूस रहे थे।

भले ही एप्पल आईफोन के लिए मामा की रखैल बन गई लेकिन मुझे भी मामा के साथ सेक्स करने में मजा आ रहा था।

और फिर मैंने अपने अधूरे काम को अंजाम दिया और मैंने धीरे से उनका लंबा लंड अपने मुंह में लिया और उसे लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी।

मामा – आ…. आ…. सोनम आ…. आ..

मैंने कहा – क्या आपका यह बलौजोब पहली बार है?

मामा बोले – हां

मैंने कहा – कोई बात नहीं आपकी भांजी है ना। आपका ख्याल रखने के लिए।

और मैं और जोर-जोर से उनका लंड चूसने लगी और मामा को बहुत ज्यादा मजा आ रहा था मैं उनके अखरोट भी अपने मुंह में चूस रही थी।

फिर जब मामा का लंड पूरा गीला हो गया और चिकना हो गया मेरे थूक से तो मैं धीरे-धीरे मामा के लन्ड के ऊपर बैठने लगी।

सच में उनका लंड बहुत ही लंबा था और इतना लंबा लैंड में पहली बार अपनी छोटी सी चूत में ले रही थी। और देखते ही देखते मैं पूरा का पूरा लंड अपनी चूत में ले गई… आ…. आ….. आ….. अहह….. अहह….. उह….. उह…. ऊह…. आ….. आ…

मामा – आ…. आ….. मेरी प्यारी सोनम आ…

और फिर मैं मामा के लंड के ऊपर कूदने लगी मैं अपनी चुत को जोर-जोर से चोद रही थी। मैं किसी रखेल की तरह मामा का लंड राइड कर रही थी और मामा को बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था।

मामा को इतना ज्यादा मजा आ रहा था कि उनकी आंखें पीछे को हो रही थी । और उनको देखके ऐसा लग रहा था जैसे चरम सुख की प्राप्ति हो रही हो।

To be continued…

About Antarvasna

Check Also

ननद के बेटे से जबरदस्त चुदाई

नमस्कार प्यारे दोस्तों, मैं किरण आप सब का मेरी इस कहानी में स्वागत करती हूं। …