दोस्त ने अपनी सगी बहन को चोदा

भाई बेहन सेक्स कहानी मेरे दोस्त और उसकी विवाहित दीदी की चुदाई की है. एक रात वे दोनों घर में अकेले थे. दीदी अपने भाई के बेड पर सोने आ गयी.

नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा लेकर आया हूं एक चुदाई की बड़ी ही दिलचस्प कहानी।

मेरी पिछली कहानी थी: आंगनबाड़ी वाली की चुत गांड की चुदाई

आज की यह भाई बेहन सेक्स कहानी मेरी नहीं मेरे ही एक अंतर्वासना पढ़ने वाले दोस्त की है।

दोस्तो, मेरा दोस्त का नाम रोमिल है और उसने अपनी सगी बहन को कैसे चोदा मैं आपको बताऊंगा।

रोमिल की बड़ी बहन राशि दीदी की शादी हो चुकी थी। वो शादी के बाद अपने ससुराल से मायके आई थी।

अब दीदी पहले से ज्यादा मस्त और सेक्सी लगने लगी थी।
उनकी चूचियां टाइट फूल गई थी और गांड़ भी थोड़ी निकल पड़ी थी।

एक दिन मम्मी कहीं गई तो राशि दीदी रोमिल के रूम में सोने आ गई।

रोमिल की उम्र तब 22 साल थी और वो अपने रूम में अंडरवियर बनियान में सोता था।

राशि दीदी सिल्क की एक पतली गुलाबी नाइटी पहन कर रोमिल के रूम में आई और बोली- भाई, मुझे अकेले मम्मी के रूम में नींद नहीं आ रही थी। मैं यहीं सोऊंगी.
और अपने भाई के पास में आकर लेट गई।

थोड़ी देर बाद जवानी के जोश और राशि दीदी के जवान बदन की सैक्सी खुशबू से रोमिल के शरीर में करंट दौड़ने लगा।

राशि दीदी का सेक्सी जिस्म उसके भाई के सामने था। उनकी पतली गुलाबी नाइटी के ऊपर से ही ब्रा और पैंटी दिख रही थी।

रूम में जीरो वाट के बल्ब में सब नज़र आ रहा था और अब रोमिल के लौड़े में भी धीरे धीरे हरकत होने लगी थी।

लेकिन रोमिल आंख बंद करके लेट गया था ताकि उसका मन ना भटके.

और तभी राशि दीदी उठी और बल्ब बंद कर दिया।
बिस्तर पर आ कर बोली- कितनी गर्मी है! लगता है रोमिल सो गया!
ऐसा बोलते हुए दीदी ने अपनी नाइटी उतार दी।

अब दीदी रोमिल के साथ ब्रा और पैंटी में लेटी हुई थी।
रोमिल ये सब महसूस करके और गर्म हो गया और उसका लौड़ा खड़ा हो गया।

अब राशि दीदी ने करवट बदल ली और रोमिल की तरफ अपनी गांड करके लेट गई। तो रोमिल ने हिम्मत करके बहाने से उसकी गान्ड पर अपना लन्ड लगा दिया।

राशि दीदी ने लंड की गर्मी अपनी गांड पर महसूस कर ली और उसकी वासना भी सुलगने लगी. वो बहाने से अपनी गांड को लंड पर दबाने लगी।

थोड़ी देर बाद रोमिल ने हिम्मत करके अपना हाथ दीदी की ब्रा पर रख दिया।
दीदी ने कोई प्रतिकार नहीं किया और धीरे धीरे गांड का दबाव लंड पर बढ़ाने लगी।

अब रोमिल ने दीदी के बूब्स सहलाना शुरू कर दिया।

दीदी ने अचानक से अपने हाथ से रोमिल का लंड पकड़ लिया और अंडरवियर के बाहर निकाल लिया।

अब रोमिल ने हिम्मत करके दीदी के ब्रा के अन्दर हाथ डालकर चूचियों को पकड़ लिया और मसलने लगा।

राशि दीदी बोली- रोमिल, तेरा लौड़ा तो चुदाई के लिए तैयार हो गया है। तूने कभी बताया नहीं कि इतना मस्त सामान है तेरे पास!

अब रोमिल ने अपनी दीदी की ब्रा खोल दी और उनके बूब्स मसलने लगा और बोला- दीदी, मैं कैसे बताता? आप मेरी बहन हो.
दीदी बोली- बहन की गांड में लंड लगाते तुझे बुरा नहीं लगा साले?

तभी दीदी ने रोमिल का एक हाथ अपनी पैंटी में डाल दिया और खुद रोमिल के लंड को सहलाने लगी।

अब दोनों भाई बहन बिल्कुल नंगे हो गए थे और दीदी ने जीरो बल्ब चालू कर दिया।
आते ही रोमिल के लंड पर टूट पड़ी और गपागप गपागप अंदर बाहर करके चूसने लगी।

वह क्या मस्त लौड़ा चूस रही थी … जैसे उसने कोई डिग्री ली है लंड चुसाई में!

रोमिल भी अपनी दीदी की दोनों चूचियों को मसलने लगा और मुंह में झटके लगाने लगा।

अब रोमिल ने दीदी को बिस्तर पर लिटा दिया और उसके ऊपर आ गया, लंड को दीदी की गर्म चूत में घुसा दिया और तेज़ तेज़ चोदने लगा।

दीदी बोलने लगी- आह उम्मह हह … ओहहह उईई उईईई … और तेज़ और तेज़ चोद भाई मुझे!

अपने लौड़े को रोमिल अपनी गर्म बहना की चूत के अंदर बाहर करने लगा अब दीदी भी अपनी कमर हिला हिला कर लंड लेने लगी।

रोमिल अपनी दीदी की चूची दबाने लगा और झटके पे झटके लगाने लगा। अब दीदी की चूत में लन्ड सटासट सटासट अंदर बाहर करने लगा।

कुछ ही देर बाद दीदी ने रोमिल को बोला कि वो उसके लन्ड पर बैठ कर चुदेगी।

रोमिल नीचे लेट गया और दीदी ने अपनी चूत लंड पर रख कर दबाव बनाया लंड फक्क से अंदर चला गया।

आहह उहहह उम्माह हहह करके दीदी मस्त होकर लंड पर ऐसे उछलने लगी जैसे दीदी अपनी चूत से रोमिल को चोद रही हो।

अब दोनों बहुत ज्यादा गर्म हो गए थे और एक-दूसरे को पागलों के जैसे चोद रहे थे।

दीदी की चूची टाइट होने लगी और उसकी चाल धीमी हो गई तो रोमिल ने नीचे से झटकों की रफ्तार तेज कर दी।

इस जोरदार चुदाई से दीदी की चूत ने पानी छोड़ दिया और गीला लंड सटासट सटासट फच्च फच्च फच्च करके अंदर बाहर होने लगा।

रोमिल ने दीदी को बिस्तर पर उल्टा लिटा दिया और ऊपर चढ़कर चूत में लन्ड घुसा दिया; फिर अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और तेज़ी से अंदर-बाहर करने लगा।

गीला लंड सटासट सटासट अंदर बाहर होने लगा और दीदी की सिसकारियां तेज़ हो गई।

अब रोमिल ने अपने लौड़े को चौथे गियर में डाल दिया और गपागप गपागप ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा।

लेकिन अब रोमिल के लंड ने हार मान ली और दीदी की चूत में गर्म गर्म लावा निकाल दिया और उसके ऊपर लेट गया।

थोड़ी देर बाद दोनों अलग हुए तो दीदी ने उसे किस करते हुए कहा- तू इतना मस्त चोदता है! पहले क्यों नहीं मुझे अपने लौड़े का मज़ा दिया?
रोमिल बोला- दीदी, आपने मुझे कभी कोई इशारा ही नहीं किया ऐसा कुछ!

थोड़ी देर बाद फिर दोनों एक-दूसरे के अंगों को सहलाने लगे और दीदी ने 69 की पोजीशन बना ली।
अब रोमिल दीदी की चूत और राशि दीदी रोमिल का लंड चूस रहे थे।

दोनों ने जमकर एक दूसरे को चूसा.

और फिर रोमिल ने नीचे तकिया लगाया और राशि दीदी की चूत में लन्ड घुसा कर गपागप गपागप अंदर बाहर करना चालू कर दिया।

दीदी ‘आह उम्मह ओहहह … चोद मुझे … और चोद … मेरा भाई कितना मस्त चोदता है. और चोद अपनी बहन को … आहहह आहह’ करके चिल्लाने लगी।

अब रोमिल जोश में आ गया और तेज़ तेज़ चोदने लगा।

कुछ देर बाद रोमिल ने दीदी को बिस्तर के किनारे पर लिटा दिया और दोनों टांगों को अपने हाथों में लेकर चूत में लन्ड घुसा दिया और ताबड़तोड़ चुदाई शुरू कर दी।

अब दीदी ने अपनी दोनों टांगें रोमिल की कमर पर लपेट दी और तेज़ी से अपनी कमर हिला हिला कर लंड लेने लगी।

रोमिल ने एक जोर का धक्का लगाया ऊईई ईईई ऊईई सीईई ईईई की आवाज निकल पड़ी लंड बच्चादानी तक जाने लगा।

अब दीदी को और मजा आने लगा और वो आह आहह उहहह करके और तेज़ तेज़ चुदाई करवाने लगी।

दीदी की चूत ने लंड को कस लिया था और झटके के साथ पानी छोड़ दिया.
अब फच्च फच्च फच्च करके अंदर बच्चादानी तक लंड जाने लगा।

दोनों भाई बहन पसीने से लथपथ हो गये और फच्च फच्च उईईई ईईईई आह हहह उम्मह हहह की आवाज तेज होने लगी।

अब रोमिल ने दीदी को बिस्तर पर सीधा लिटा दिया और उसके ऊपर आ गया; लंड को झटके से घुसा दिया और गपागप गपागप अपनी बहन को चोदने लगा।

दीदी बोलने लगी- आह रोमिल … और तेज़ तेज़ अपनी बहन को चोद भाई … आज से मेरी चूत तेरे लौड़े की है. और चोद!

अब रोमिल का जोश और बढ़ गया, रोमिल अपनी पूरी रफ्तार से चोदने लगा।
लंड अब सटासट सटासट सटासट अंदर बाहर अंदर बाहर होने लगा था।

रोमिल ने दीदी की चूचियों को कसकर पकड़ लिया और आहह ओहहह करके चूत के अंदर ही अपना वीर्य छोड़ दिया।
दोनों एक-दूसरे से चिपक गए थे।

भाई बहन दोनों को पता नहीं चला कि कब नींद आ गई।

सुबह 7 बजे जब दरवाजे के बाहर से पापा की आवाज आई तो दोनों की नींद खुली।
दोनों नंगे एक दूसरे से लिपटे हुए थे।

फिर दोनों ने एक दूसरे को किस किया और अपने कपड़े पहने फिर कमरे के बाहर आ गए।

उसके बाद जितने दिन राशि दीदी घर में रही जब भी मौका मिलता तो दोनों भाई बहन जमकर चुदाई करते।

आज भी जब जब मौका मिलता है रोमिल अपनी बहन राशि दीदी को जरूर चोदता है।

दोस्तो, मेरे दोस्त की सच्ची भाई बेहन सेक्स कहानी पढ़कर कमैंट जरूर करें।
[email protected]

About Antarvasna

Check Also

कमसिन कच्ची कली मेरे बिस्तर पर फ़ूल बनी

हैलो दोस्तो, मैं आरुष इलाहाबाद का रहने वाला हूँ। सबसे पहले मेरे चाहने वालों को …